चाइना, पाकिस्तान पर कबजा कर सकता है?

चाइना, पाकिस्तान पर कबजा कर सकता है?

चाइना, पाकिस्तान पर कबजा कर सकता है?

जैसा कि हम लोग जानते हैं दोस्तों चाइना और पाकिस्तान बेहद ही अच्छे दोस्त हैं या यूं कहें कि पाकिस्तान चाइना की गुलामी करता है हम ऐसा इसलिए कह रहे हैं क्योंकि पाकिस्तान आज के समय पर पूरी तरह चाइना के ऊपर निर्भर है

पाकिस्तान के अंदर जितने भी प्रोजेक्ट हो रहे हैं वह चाहे किसी भी प्रकार के हो जैसे रोड कंस्ट्रक्शन डैम कंस्ट्रक्शन पावर प्लांट कंस्ट्रक्शन एयरपोर्ट कंस्ट्रक्शन और भी बहुत सारे कंस्ट्रक्शन के काम लगभग सारे के सारे चाइना के द्वारा किए जा रहे हैं जिसके कारण हम यह बात कह रहे हैं कि आज के समय में पाकिस्तान पूरी तरह से चाइना पर निर्भर है

पाकिस्तान के अंदर करीब 90% मार्केट चाइना ही करता है पाकिस्तान को आज के समय में सिर्फ और सिर्फ चाइना ही इंटरनेशनल सपोर्ट करता है

चाइना के द्वारा पाकिस्तान में कई सारे बड़े बड़े मेगा प्रोजेक्ट्स पर काम किए जा रहे हैं उसी में से एक है दासू डैम जो पाकिस्तान के दासु शहर में बन रहा है

इस डैम के बन जाने के बाद पाकिस्तान की स्थिति काफी ज्यादा सुधरेगी क्योंकि इस डैम के बनने के बाद पाकिस्तान के अंदर किसानों को समय-समय पर पर्याप्त मात्रा में पानी मिलेगी और बिजली की समस्या पाकिस्तान मैं काफी सुधार आएगी

इस डैम के बन जाने के बाद पाकिस्तान को बेहद फायदा होने वाला था

चाइना, पाकिस्तान पर कबजा कर सकता है?

पाकिस्तान के अंदर इस डैम को बनाने का पूरा खर्च वर्ल्ड बैंक उठा रही है वर्ल्ड बैंक ने पाकिस्तान को इस डैम को बनाने के लिए बहुत सारे पैसे भी हैं

दासू डैम बनाने के लिए पाकिस्तान ने इस डैम को बनाने की कॉन्ट्रैक्ट चाइना के एक कंपनी को दे दी जिसके बाद से पाकिस्तान एक उम्मीद लगाया हुआ था कि अगर डैम का काम पाकिस्तान की किसी लोकल कंपनी करती है तो डैम का सारा खर्च पाकिस्तान के अंदर ही खर्च होता पाकिस्तान के लोगों को रोजगार मिलता

लेकिन पाकिस्तान के अंदर कोई ऐसी कंपनी ही नहीं थी जो इस डैम को बनाने की जिम्मेदारी लें जिसके बाद से पाकिस्तान ने दासू डैम बनाने का कॉन्ट्रैक्ट चाइना की एक कंपनी को दे दिया

जिसके बाद से सारे रो मटेरियल इस डैम में लगने वाले हैं सारे के सारे चाइना से इंपोर्ट कराए गए और जैसा कि हम सभी जानते हैं कि अगर चाइना कोई भी प्रोजेक्ट पर काम करता है तो वह अपने ही देश के लोगों को ज्यादा काम देता है

पाकिस्तान के सामने कोई रास्ता नहीं था चाइना को कांटेक्ट देने के अलावा क्योंकि कोई और देश पाकिस्तान के अंदर डैम बनाने का काम लेने से डरते थे क्योंकि आए दिनों पाकिस्तान में आतंकी हमला होता रहता है जिसके कारण बाहरी देश के इंजीनियर और वर्कर्स अपनी जान की चिंता के कारण पाकिस्तान में डैम बनाने से साफ मना कर दिया

जिसके बाद से चाइना हो या कॉन्ट्रैक्ट दे दिया गया चाइना से सारे रो मटेरियल डैम बनाने के आधुनिक मशीनें चाइना के इंजीनियर और बेहद ज्यादा मात्रा में मजदूर इन सभी लोगों और चीजों को पाकिस्तान में भेजा गया चाइना गवर्नमेंट के द्वारा

जिसके बाद से दासू डैम का काम बेहद तेजी से शुरु हो गया

जुलाई 2021 में दासू डैम के पास एक आतंकी हमला हुआ जो एक बस पर किया गया जिसमें करीब 9 चीनी नागरिक मारे गए

इस घटना के बाद चाइना के दबाव के कारण और वर्ल्ड मीडिया के दबाव के कारण पाकिस्तान ने यह कहा कि यह कोई आतंकी हमला नहीं था बस के अंदर एक गैस सिलेंडर रखा हुआ था जो ब्लास्ट कर गया जिसके कारण बस में आग लग गई और इतने सारे चीनी नागरिक मारे गए

लेकिन,

चाइना के सख्त रवैया के कारण पाकिस्तान ने यह कबूला कि हां यह एक आतंकी हमला था जिसके बाद से पाकिस्तान ने चाइना से माफी मांगी और चाइना से कहा कि इस मामले को कृपया करके शांत करें इंटरनेशनली पाकिस्तान की बेहद जादे बेज्जती की जा रही है इस आतंकी हमले को लेकर जिसके बाद से चाइना ने इस मामले को शांत करा दिया

लेकिन,

चाइना ने पाकिस्तान पर फाइन लगा दिया पाकिस्तान के ऊपर करीब 280 करोड़ रुपए चाइना ने फाइन लगाया और कहा कि 280 करोड़ रुपय आप इन नो चीनी नागरिकों के परिवार को खुद जाकर बांट दे

जिसके बाद से पाकिस्तान के अंदर काफी ज्यादा तनाव का माहौल रहा क्योंकि हम सभी जानते हैं कि पाकिस्तान के अंदर आज हर एक आदमी एक फूटी कौड़ी के लिए तरस रहा है पाकिस्तान की अर्थव्यवस्था बेहद जादे कमजोर हो चुकी है यूं कहें बर्बाद हो चुकी है

पाकिस्तान चाइना से बात करके इस फाइन को माफ करने की बात की लेकिन चाइना ने एक ना सुनी पाकिस्तान की

पाकिस्तान बुरा फंसा
पाकिस्तान के सामने बेहद गंभीर परिस्थिति है क्योंकि आज के समय में पाकिस्तान चाइना के ऊपर बेहद ज्यादा निर्भर है पाकिस्तान के सामने कोई रास्ता ही नहीं बचा
क्योंकि,
नहीं पाकिस्तान के पास कितने पैसे हैं कि वह इतनी ज्यादा रकम फाइन के तौर पर चाइना के उन 9 लोगों को जो पाकिस्तान में आतंकी हमले में मरे थे उनके परिवार वालों को दे सके और ना ही, पाकिस्तान चाइना को यह कह सकता है कि अगर आप यह फाइन लेते हैं तो हम चाइना की कंपनी को दी गई कॉन्ट्रैक्ट को कैंसिल कर सकेंगे ऐसा तो कतई नहीं कर सकता पाकिस्तान

क्योंकि आज के समय में पाकिस्तान के अंदर सबसे ज्यादा कर्जा चीन ही देता है

अगर पाकिस्तान चाइना की कंपनी से कॉन्ट्रैक्ट कैंसिल कर लेता है तो चाइना कर्ज देना बंद कर देगा पाकिस्तान को ऐसे ऐसे कई और गंभीर और समस्याएं पाकिस्तान के सामने खड़े हो चुके हैं
अभी पाकिस्तान चुप है पाकिस्तान अभी तक चाइना को 280 करोड़ रुपए फाइन भी नहीं दिया और ना ही चाइना से डैम बनाने का कॉन्ट्रैक्ट कैंसिल किया

चाइना पाकिस्तान पर कब्जा कर सकता है? कैसे?

दुनिया भर के बड़े-बड़े एक्सपर्ट्स का मानना है कि पाकिस्तान ईतना कर्ज ले चुका है चाइना से की एक समय पर पाकिस्तान चाइना के दिए हुए कर्ज का ब्याज भी नहीं दे पाएगा उस वक्त बेहद ज्यादा मुमकिन है कि चाइना पाकिस्तान को

कबजा कर लेगा क्योंकि पाकिस्तान के पास एक फूटी कौड़ी नहीं रहेगी और मजबूरन पाकिस्तान को चाइना के अंदर शामिल होना पड़ेगा और पाकिस्तान एक चाइना का राज्य बन कर रह जाएगा

एक्सपर्ट्स का मानना है कि अगले 5 से 20 साल के अंदर यह हो सकता है कि पाकिस्तान चाइना का एक राज्य बन जाए

अगर ऐसा होता है तो भारत के लिए काफी दिक्कत हो सकती है

और भी अपडेट्स जल्दी ही आएंगे… ..

ऐसे और ट्रेंडिंग चीजों के बारे में जानने के लिए हमारे वेबसाइट पर जाएं- ALWAYSTREND.IN

अमेजिंग फैक्ट वीडियोस देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को प्लीज सब्सक्राइब करें-Miss technical fact

Leave a Reply

Your email address will not be published.