भारत-और-ब्रिटेन-विवाद

आखिरकार भारत ने ब्रिटेन को घुटनों पर ला ही दिया

भारत-और-ब्रिटेन-विवाद

 

दोस्तों हम जानते हैं कि चाइना के कारण पूरी दुनिया में एक बहुत ही बड़ा बीमारी फैल गया जिसका नाम कोरोना है कोरोना एक ऐसी बीमारी है जो संक्रमण के कारण फैलती है इस बीमारी में पूरी ही दुनिया को हिला कर रख दिया था सारे बड़े-बड़े देशों के आर्थिक स्थिति को हिला कर रख दिया था

इस बीमारी ने कई लाख लोगों की जाने ली या बीमारी भारत अमेरिका चाइना और भी कई सारे देशों में बहुत तेजी से फैल चुकी थी जिसमें ब्रिटेन भी शामिल था

भारत-और-ब्रिटेन-विवाद-का-जड़

ब्रिटेन ने क्या किया

ब्रिटेन कोरोना महामारी के कारण पूरी तरह टूट चुका था ब्रिटेन के स्वास्थ्य विभाग अपने हाथ खड़े कर चुके थे क्योंकि उनसे यह बीमारी का इलाज नहीं हो पा रहा था इस बीमारी के कारण ब्रिटेन में कई लाख लोगों की जानें गई जिसके कारण बाहरी देशों के लोगों को अपने देश में आने से सख्त मना कर दिया था ब्रिटेन में

और वाह उन लोगों को भी आने का अनुमति नहीं दे रहे थे जो वैक्सिंग लगवा चुके थे वह सिर्फ कुछ गिने-चुने देशों के लोगों को ही आने दे रहे थे भारत के लोगों को भी ब्रिटेन में जाने की मनाही थी

जिसके कारण भारत के लोग ब्रिटेन में जा नहीं पा रहे थे कुछ दिनों से इसके कारण भारत के कई सारे लोगों की नौकरियां चली गई कई सारे लोगों के कारोबार रुक गए भारत की अर्थव्यवस्था पर भी इसका प्रभाव पड़ रहा था जिसके कारण भारत की सरकार चिंतित थी ब्रिटेन के इस फैसले के कारण

भारत सरकार ब्रिटेन सरकार से अनुरोध की वह फैसला बदल ले और भारतीय मूल के लोगों को ब्रिटेन में आने की अनुमति दें

ब्रिटेन अपने फैसले को कुछ दिनों पहले बदला और नया नियम लाया की ब्रिटेन के बनाए वैक्सीन को जो जिन भारतीयों ने लगाया है सिर्फ उन्हें ही ब्रिटेन में और यूरोपियन कंट्रीस में एंट्री मिलेगी वह भी 15 दिन क्वॉरेंटाइन रहने के बाद

भारत की सरकार इस फैसले से खुश नहीं थी क्योंकि कहीं ना कहीं ब्रिटेन अपना धंधा करने के फिराक में थी और लोगों के कामों को मजाक समझ रही थी

भारत में क्या किया

दिनांक 1 अक्टूबर 2021 के दिन भारत सरकार के द्वारा एक नया नियम लाया गया की अगर कोई भी यूरोपीयन कंट्रीज के निवासी भारत में किसी भी काम से आते हैं तो उन्हें 15 दिन क्वॉरेंटाइन रहना होगा और हर 8 दिन मैं RTPCR टेस्ट करा कर भारत सरकार को देना होगा

इस फैसले के कारण ब्रिटेन की सरकार और यूरोपीयन कंट्रीज अपना सर पकड़ लिए हैं क्योंकि इसके कारण उनके मिलियंस में नुकसान होंगे बहुत सारे ब्रिटेन के लोग भारत में आते हैं बिजनेस के लिए अब अगर वाह यहां इंडिया में 15 दिन क्वॉरेंटाइन मैं अपना समय व्यर्थ करेंगे तो उनके करोड़ों के नुकसान होंगे

ब्रिटेन की सरकार और यूरोपीयन कंट्रीज यह बात समझ गए हैं की भारत से प्यार से ही काम निकाला जा सकता है अब वह पछता रहे हैं अपने बनाए नियमों के कारण

भारत के राह पर चलते हुए कई सारे देश जैसे साउथ अफ्रीका ब्राजील बोलिविया चिल्ली और भी कई सारे देशों ने भी भारत की जैसे यह नियम ब्रिटेन और यूरोपियन कंट्रीज पर लागू कर दिए हैं

ब्रिटेन और यूरोपीयन कंट्रीज फल और सब्जियों के मामले में पूरी तरह से निर्भर है इन छोटे-छोटे अमेरिकन लेटइन देशों पर ब्रिटेन के बड़े-बड़े पानी के जहाज हर कुछ दिनों पर इन छोटे देशों पर जाया करती हैं सब्जियों और फलों को लाने

अब इस फैसले के बाद उन सभी जहाजों के कर्मचारी जो ब्रिटेन के लोग हैं उन्हें 15 दिन क्वॉरेंटाइनौ रहना पड़ेगा जिसके कारण ब्रिटेन और यूरोप में फूड सप्लाई की मात्रा कम हो जाएगी जिसके कारण यूरोप के देशों में महंगाई अपने आप पड़ जाएगी इस वजह से यूरोपियन कंट्री और ब्रिटेन काफी डरा हुआ है

देखते है आगे चलकर क्या किया और नियम आते हैं

और भी अपडेट्स जल्दी ही आएंगे… ..

ऐसे और ट्रेंडिंग चीजों के बारे में जानने के लिए हमारे वेबसाइट पर जाएं- ALWAYSTREND.IN

अमेजिंग फैक्ट वीडियोस देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को प्लीज सब्सक्राइब करें-Miss technical fact

Leave a Reply

Your email address will not be published.