India and Taiwan deal / भारत और ताइवान सौदा

India and Taiwan deal / भारत और ताइवान समझौता

India and Taiwan deal / भारत और ताइवान सौदा

 

भारत के प्रधानमंत्री “श्री नरेंद्र मोदी” कुछ दिनों पहले अमेरिका दौरे पर गए थे जहां पर उनके कई सारी जरूरी मीटिंग हुए अमेरिका के राष्ट्रपति “जो वाइडन” के साथ कई सारे समझौते हुए और अमेरिका के कुछ बड़े टॉप लीडिंग कंपनीयों के मालिक सबके साथ भी मीटिंग हुआ जिसमें क्वालकॉम कंपनी के मालिक “क्रिस्टियानो अमोनो”के साथ बहुत ही जरूरी मीटिंग हुई जिसमें क्वालकॉम को इंडिया में आने का ऑफर प्रधानमंत्री मोदी जी ने दीया जिस पर क्वालकॉम कंपनी भारत में निवेश बहुत जल्दी करेगा

QUALCOMM

भारत के हिसाब से यह बहुत ज्यादा बड़ी डील माना जा रहा है क्योंकि इंडिया में इसकी वजह से काफी सारा रोजगार और आने वाले फ्यूचर के हिसाब से चिप उत्पादन बहुत ही बड़ा कारोबार बनने वाला है इसलिए भारत इस डील को लेकर काफी गंभीर है भारत ताइवान के साथ काफी बड़े-बड़े डील्स की बात की जिसमें आने वाले समय के हिसाब से काफी महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया प्रधानमंत्री मोदी जी के द्वारा

ऐसे और ट्रेंडिंग चीजों के बारे में जानने के लिए हमारे वेबसाइट पर जाएं- ALWAYSTREND.IN

अमेजिंग फैक्ट वीडियोस देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को प्लीज सब्सक्राइब करें-Miss technical fact

India and Taiwan deal / भारत और ताइवान समझौता

 

फिलहाल के समय में ताइवान पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा चिप की मैन्युफैक्चरिंग करती है लेकिन चीन के दबाव के कारण कभी भी ताइवान की कंपनी ज्यादा मुनाफा नहीं कमा पाती जिसके कारण ताइवान की सबसे बड़ी चिप मैन्युफैक्चरिंग कंपनी TSMC (Taiwan semiconductor manufacturing corporation), टीएसएमसी (ताइवान सेमीकंडक्टर मैन्युफैक्चरिंग कॉरपोरेशन) ने भारत में निवेश करने का मन बना लिया है

यह कंपनी भारत में अपना अभी तक का सबसे बड़ा चिप मैन्युफैक्चरिंग प्लांट लगाने का मन बना लिया है ताइवान सरकार के द्वारा यह डील की गई है

 

भारत और ताइवान 56 हजार करोड़ रुपया समझौता

ताइवान की चिप मैन्युफैक्चरिंग कंपनी टीएमसी भारत में बहुत ही जल्द अपना चिप्स मैन्युफैक्चरर्स प्लांट लगाने वाला है जिसकी कुल कीमत 56 हजार करोड़ आ रहा है मतलब की ताइवान की कंपनी की टीएसएमसी भारत में 56 हजार करोड़ या यूं कहें 7.5 बिलियन डॉलर का निवेश करने जा रहा है जिस के कारण आने वाले समय में भारत की अर्थव्यवस्था काफी तेजी से आगे बढ़ेगी

भारत और ताइवान समझौता के फायदे

भारत का फायदा

भारत में अगर ताइवान निवेश करता है तो भारत का अर्थव्यवस्था काफी हद तक तेजी से आगे बढ़ेगी और फ्यूचर में भारत एक सुपर पावर बनने की दौड़ में और आगे बढ़ेगा क्योंकि आने वाले समय में हर चीज आधुनिक मशीनों के द्वारा किया जाएगा जिसमें एक बहुत ही महत्वपूर्ण चीज होता है उसका प्रोसेस जिसे हम चिप के नाम से जानते हैं इसका इस्तेमाल हर इलेक्ट्रॉनिक मशीन में बहुत ही जरूरी होता है यूं कहें यह मशीनों का दिमाग होता है इससे आप लोग अंदाजा लगा सकते हैं की चिप मैन्युफैक्चरिंग

आने वाले समय में कितना बड़ा बिजनेस है भारत इस मौके को गंवाना नहीं चाहता क्योंकि ताइवान का यह निवेश अभी भारत में सबसे पहला निवेश है आने वाले समय में कई और बड़े-बड़े निवेश भारत में किए जाएंगे ताइवान के तरफ से इसलिए भारत के हिसाब से यह डील बहुत ही बड़ी डील है

India and Taiwan deal / भारत और ताइवान समझौता

ताइवान का फायदा

ताइवान की सरकार और वहां के लोग इस डील से काफी खुश हैं क्योंकि इससे कहीं ना कहीं बहुत ही ज्यादा बड़ा फायदा ताइवान को भी होगा चीन लगातार ताइवान को धमकियां देता रहता है की हम आप पर सैनी करवाई करेंगे चीन का मानना है कि ताइवान चीन का हिस्सा है लेकिन या बिल्कुल झूठ है ताइवान के लोग चीन के धमकियों से हमेशा डरते आए हैं

हालांकि एक डील के हिसाब से अगर चाइना ताइवान पर हमला करता है तो जापान की सेना और अमेरिका की सेना ताइवान की तरफ से युद्ध लड़ेगी लेकिन यह सब जानने के बाद भी चीन अपना रवैया वैसे की वैसा ही रखा उसे कोई फर्क नहीं पड़ता लेकिन ताइवान यह जानता है कि अगर भारत में वह भारी निवेश करें तो भारत आने वाले समय में ताइवान के साथ कदम से कदम मिलाकर चलेगा यानी कि अगर ताइवान पर चीन के तरफ से हमला होता है तो भारत अमेरिका जापान के साथ मिलकर ताइवान को बचाएगा

इसलिए ताइवान बहुत ही खुश है इस समझौते की बात क्योंकि ताइवान जानता है कि भारत दुनिया के सबसे ताकतवर देशों में आता है जिससे चाइना पर बहुत दबाव बनेगा

और भी अपडेट्स जल्दी ही आएंगे… ..

ऐसे और ट्रेंडिंग चीजों के बारे में जानने के लिए हमारे वेबसाइट पर जाएं- ALWAYSTREND.IN

अमेजिंग फैक्ट वीडियोस देखने के लिए हमारे यूट्यूब चैनल को प्लीज सब्सक्राइब करें-Miss technical fact

Leave a Reply

Your email address will not be published.